-->


અમારા WhatsApp ગ્રૂપમાં જોડાઓ

Join Now

मानसून में गलती से इन 7 मशहूर जगहों पर जाने का प्लान न करें

गर्मी के मौसम में जहां Monsoon (मॉनसून) नहीं आया है वहां से राहत पाने के लिए लोग खुशी से झूम उठे हैं और क्यों न भीषण गर्मी से राहत पाने के लिए जूम इन कर लें। Monsoon के मौसम में ठंडी हवाओं के बीच घूमना कुछ अलग ही होता है। लेकिन इस बात का भी ध्यान रखना जरूरी है कि Travel की योजना ऐसी जगह बनानी चाहिए जहां घूमने में मजा आए और बारिश के मौसम में फंसने का खतरा न हो।



आज हम आपको उस जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां आपको मानसून के मौसम में जाने से बचना चाहिए। देश के कुछ स्थान भव्य स्थलों की सूची में शामिल हैं। उनमें से ज्यादातर मानसून में घूमने के लिए ऐसी जगह चुनते हैं। लेकिन कुछ जगहें ऐसी भी हैं जहां मानसून के मौसम में घूमना आपके ट्रिप के मजे को पूरी तरह से दुःस्वप्न बना सकता है।

Monsoon में इन 7 खूबसूरत शहरों में गलती से भी न रखे पैर नहीं तो पैसा बर्बाद हो सकता है।

1. मुंबई / Mumbai Tour



इस सूची में सबसे पहला मुंबई की बात करते हैं। मुंबई की चकाचौंध किसे पसंद नहीं है, लेकिन बारिश में मुंबई की सैर पर जाना आपके लिए एक बुरा अनुभव हो सकता है। इस बीच न सिर्फ मुंबई की सड़कें पानी से लथपथ हैं, बल्कि घंटों ट्रैफिक की लंबी लाइनों में फंसने से मजा भी खराब हो सकता है। इसके लिए मुंबई घूमने के लिए नवंबर से फरवरी का समय सबसे अच्छा है। हालांकि, महाराष्ट्र में कुछ हिल स्टेशन हैं जैसे भंडारदरा, अंबोली, महाबलेश्वर आदि, जहां आप बारिश के मौसम से पहले या बाद में लौट सकते हैं।


2. उत्तराखंड / Uttarakhand Tour



ज्यादातर लोग गर्मी से बचने के लिए पहाड़ों की ओर भागते हैं और जब मानसून का मौसम होता है तो हर कोई हिल स्टेशन जाने के लिए बेताब रहता है। पहाड़ों की बात करें तो सबसे पहले हम बात करेंगे उत्तराखंड जैसी खूबसूरत जगह की। दिल्ली से उत्तराखंड का सफर आप चंद घंटों में पूरा कर सकते हैं। हालाँकि कई बसें, ट्रेनें और कैब भी उपलब्ध हैं, जो आपको दिल्ली से उत्तराखंड ले जाती हैं। हालांकि, मानसून के मौसम के दौरान, उत्तराखंड में कई जगहों पर लगातार बारिश होती है, जिससे सड़कें फिसलन भरी हो जाती हैं। इस मौसम में ऐसी जगहों पर गाड़ी चलाना या पैदल चलना जोखिम के समान है।

3. हिमाचल प्रदेश / Himachal Pradesh Tour



उत्तराखंड की तरह हिमाचल में भी कई प्रसिद्ध हिल स्टेशन हैं, जहां सबसे गर्म मौसम में भीड़ देखी जा सकती है।आप कई सुविधाओं की मदद से दिल्ली से हिमाचल की यात्रा कर सकते हैं। हालांकि बारिश के मौसम से पहले या बाद में हिमाचल जाने की योजना बनानी चाहिए। क्योंकि यह एक हिल स्टेशन है, ऐसे कई स्थान हैं जहां बारिश के दौरान चट्टानें गिरती हैं, बाढ़ आती है या भूस्खलन होता है।


4. केरल / Kerala Tour




बारिश के मौसम में केरल ज्यादा हरा-भरा और खूबसूरत नजर आता है। यहां के शानदार नजारों को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। लेकिन बरसात के मौसम में यहां का नजारा बेहद डरावना हो जाता है। केरल में कई जगह बाढ़ जैसी स्थिति का अनुभव होता है और यहां आप तीन से चार दिनों तक लगातार बारिश भी देख सकते हैं। इसलिए अगर आप केरल घूमने की योजना बना रहे हैं तो सितंबर से मार्च के बीच का समय सबसे अच्छा है।

5. चेन्नई / Chennai Tour




मॉनसून की बारिश दक्षिण भारत को राहत देती है। उनमें से कई दक्षिण भारत की हरियाली और सुंदरता का पता लगाने के लिए चेन्नई की यात्रा की योजना बनाते हैं। हालांकि, मानसून के दौरान, चेन्नई में अक्सर बाढ़ आ जाती है, जिससे आपको होटल के कमरे में रहने के लिए मजबूर होना पड़ता है, इसलिए जुलाई और सितंबर के बीच चेन्नई जाने से बचें।

6. गोवा / Goa Tour




इस प्रकार गोवा की जनसंख्या बहुत कम है। लेकिन चूंकि यह देश का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है, इसलिए यह साल भर बड़ी संख्या में तीर्थयात्रियों को आकर्षित करता है। कुछ लोग बारिश के मौसम में भीड़ से बचने के लिए गोवा जाने का प्लान करते हैं। लेकिन मानसून के मौसम में न केवल गोवा में समुद्र की लहरें जोरों पर हैं, बल्कि यहां के समुद्र तट भी बहुत गंदे हैं। इसके लिए मानसून में गोवा जाने से बचना चाहिए।


7. सिक्किम / Sikkim Tour



सिक्किम प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है। ट्रेन से दिल्ली से सिक्किम जाने में आपको एक दिन का समय लगेगा। मानसून को छोड़कर बाकी महीनों के लिए सिक्किम की यात्रा जरूर करनी चाहिए, क्योंकि बारिश के मौसम में यहां की स्थिति बहुत खराब हो जाती है। बारिश के दिनों में सड़कों पर चलना मुश्किल हो जाता है। इसलिए बारिश के मौसम में सिक्किम की यात्रा की योजना बनाने से बचना चाहिए।